Today Milk Rate In Jaipur जयपुर में आज दूध का भाव

दूध कंज्यूमर (Milk Consumer) की जेब पर कल से बढे़गा भार:सरस डेयरी ने गोल्ड दूध की कीमत 1.22 पैसे बढ़ाई

Today Milk Rate In Jaipur

दूध उत्पादकों की खरीद 21 पैसे प्रति फैट बढ़ाई

जयपुर में दूध कंज्यूमर (Milk Consumer) की जेब पर कल से भार पडे़गा। जयपुर डेयरी ने गोल्ड दूध की कीमत एक रुपए बढ़ा दी है। यह बढोतरी आध्ा लीटर (Half Liter), एक लीटर, 6 लीटर पर लागू होगी। टोंड दूध की कीमत में कोई बढोतरी नहीं की गई है। ऐसे में 62 Rupay  प्रति लीटर होगी। साथ ही दुग्ध उत्पादकों के खरीद Rate में 1 February से 20 Paiseप्रति फैट की बढ़ोतरी की गई है। जिससे प्रति लीटर 6.5 फैट की औसत से 1.30 Rupay की खरीद मूल्य की वृद्धि होगी!

Shubman Gill के साथ डेटिंग का Sara ने बताया सच, ‘क्रिकेटर’ से शादी के प्लान पर कही ये बात

डेयरी अध्यक्ष रामचंद्र चौधरी ने बताया कि जयपुर दुग्ध संघ के संचालक मण्डल की बैठक में पशुपालको के हित में कई महत्वपूर्ण निर्णय किए। जिसमें प्रमुख रूप से दुग्ध उत्पादकों के खरीद Rate में 1 Februaryसे 20 Paise प्रति फैट की वृद्धि की गई है। जिससे प्रति लीटर 6.5 फैट की औसत से 1.30 रू. (Rupay) की खरीद मूल्य की बढोतरी होगी। इस प्रकार नई दरो के अनुसार पशुपालको को 800 रूपए किलो फैट और 5 रुपए मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक सम्बल योजना के मिलने पर जिले में औसत 56.87 मिलेंगे।

इतना ही नहीं आगामी 1 March से 1 रूपये प्रति लीटर की वृद्धि और की जाएगी। 1 April  अर्थात नये सहकारी वर्ष के प्रारम्भ में पशुपालको को वर्तमान दर में 3 रूपये प्रति लीटर की दर से अधिक भुगतान किया जाएगा । इस वर्ष पशुपालको को चारे की उच्च दर देने, पशु आहार की दरें बढ़ाने से एवं लम्बी बीमारी से हुई क्षति पूर्ति हेतु संघ ने इस वर्ष दीपावली के बाद दूध के खरीद मूल्य में कोई कटौती नहीं करते हुए आगामी दीपावली तक वर्तमान दरो को जारी रखा गया है। यह दरे नई दरों के बाद अजमेर डेयरी द्वारा पशुपालको को प्रदेश ही नहीं अपितु भारत वर्ष में सर्वाधिक दूध का खरीद मूल्य होगा!

अपनी वेबसाइट बनाये, सीखे फ्री ब्लॉग और वेबसाइट कैसे बनाये

अगले महीने होगी कार्यशाला

चौधरी ने बताया कि संचालक मण्डल की बैठक में पशुपालको के हित में अन्य निर्णय की पालना में आगामी February  महीने में जवाहर रंगमंच पर 1 दिवसीय कार्यशाला आयोजित की जाएगी। जिसके अन्तर्गत पशुपालको को किसान Cradit Card (के.सी.सी.) की दर पर पशुधन, Cradit Card के आधार पर पशुधन खरीदने के लिए प्रेरित किया जाएगा। इस कार्यक्रम में आगामी 6 महीने में 1 लाख दुधारू पशु गुजरात, हरियाणा एवं पंजाब से खरीद कर जिले में लाए जाएगें, जिससे की दूध उत्पादन में तेजी से वृद्धि हो सकेगी। इसके अतिरिक्त पशुपालको को उक्त कार्यशाला में लम्पी बीमारी एवं एफ.एम.डी बीमारी के टीकाकरण हेतु पशुपालको को प्रेरित किया जाएगा। इतना ही नहीं उक्त कार्यशाला में पशु बीमा, सेक्स सोर्टेड सीमन (sex sorted semen) की उपयोगिता एवं पशुपालको के लिए सरस सुरक्षा कवच बीमा योजना के बार में अवगत करवाया जाएगा। उक्त कार्यशाला से पशुपालको को प्रेरित किया जाएगा।

Full Form of EMI In Hindi | ईएमआई क्या हैं, इसके फायदे और नुकसान

बैठक में ये निर्णय भी लिए गए

इतना ही नहीं दूध की क्वालिटी (quality) जो देश में जयपुर डेयरी  की सर्वोत्तम है, उसे आगे भी बनाये रखने के लिए पशुपालकों का ध्यान आकर्षित किया जाएगा। बैठक में ठेका श्रमिकों के हितार्थ 50 Rupay प्रतिदिन की बढ़ोतरी करने का निर्णय लिया गया।

बैठक में वर्तमान पुराने प्लांट की चार दिवारी, जीर्णोद्वार करने एवं प्लांट के अन्दर की जमीन पर हरी घास लगाने का निर्णय लिया गया। जिससे की ई.टी.पी.(ETP)  के अतिरिक्त पानी का अधिकतम हिस्सा फव्वारा सिंचाई से उपयोग में लिया जा सके।

बैठक में संघ के प्लांट में और विस्तार करने हेतु चीज़ प्लांट लगाने एवं वर्तमान पुराने प्लांट के 10 मैट्रिक टन पाउडर प्लांट का विस्तार करके 20 मैट्रिक टन पाउडर प्लांट बनाने का निर्णय लिया गया। साथ ही नये प्लांट के डिस्पेच डॉक पर शेड लगवाने का निर्णय लिया गया।

बैठक में इण्डियन (Indian)  डेयरी एसोशियसन द्वारा गांधीनगर, गुजरात में 16 March से 18 March तक आयोजित होने वाले डेयरी इण्डस्ट्रीज कांफ्रेस (DIC) में 25 सदस्यीय दल को भेजने का निर्णय लिया गया।

पशुपालको के हित में आगामी समय में चारे के संकट को मध्यनजर रखते हुए चारे के बीज भरपूर मात्रा में अनुदान पर वितरित किए जाने का निर्णय लिया।

बैठक में संघ, आर.सी.डी.एफ. कर्मचारियों को भी राजस्थान सरकार स्वास्थ्य योजना (RGHS ) योजना में सम्मिलित करने हेतु राज्य सरकार से अनुरोध किया गया।

संघ में वर्तमान में तकनिकी स्टाफ की भारी कमी को मध्यनजर रखते हुए आर.सी.डी. एफ एवं राज्य सरकार से अनुरोध किया गया कि जिला संघो के शेष रिक्त पदों को जल्द से जल्द भरा जाये।

बैठक में यह निर्णय लिया गया की IDMC के साथ समझौते अनुसार उनके 3 तकनीकी विशेषज्ञ Automation / Instrument / Electrics, Production / Process, Powder Plant अधिकारियों को अनुबन्ध पर रखे जाने का निर्णय लिया गया।

Leave a Comment