HTTP Full Form in Hindi | एचटीटीपी फुल फॉर्म और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी हिंदी में

HTTP Full Form in Hindi: क्या आप HTTP क्या है (What is HTTP in Hindi) और HTTPS क्या है? जानना चाहते है, यदि हाँ तो यह पोस्ट आपके लिए है। आज हम आपको What is HTTP, What is the Full Form of HTTP, What is HTTPS, What is the Full Form of HTTPS, What is the Difference Between HTTP & HTTPS आदि के बारें बताने वाले है। यदि आप यह सब जानना चाहते है, तो इस पोस्ट को आपको ध्यान से पढ़ना होगा, क्योंकि इस पोस्ट में हम आपको पूरी जानकारी प्रदान करने वाले है।

HTTP Full Form in Hindi (HTTP का फुल फॉर्म इन हिंदी)

HTTP Ka Full Form, “Hypertext Transfer Protocol” Hota Hai. HTTP का फुल फॉर्म हिंदी में, “हाइपरटेक्स्ट ट्रांसफ़र प्रोटोकॉल” होता है। यह वर्ल्ड वाइड वेब की मूल संरचना है, जिसमें डेटा संचार शामिल है।

What is HTTP (HTTP क्या है)

HTTP एक एप्लीकेशन प्रोटोकॉल है, जो किसी भी वेबसाइट के आगे (World Wide Web) के आगे लगता है। इसके मदद से किसी भी वेबसाइट का URL खुल जाता है।

HTTP और HTTPS में ज्यादा diffrence नही है, क्योंकि दोनों का काम एक ही है, बस HTTP के तुलना में HTTPS ज्यादा सेफ है।

एक वेबसाइट के Text या URL को Hypertext कहते है। उस वेबसाइट में जितने भी Web Based Content होते है, जैसे कि Images, Video, Audio आदि, यह सभी चीजें Hypertext के Under आता है। HTTP हर एक website page के Domain Name के पहले उपयोग किया जाता है।

HTTP का उपयोग करके वेब ब्राउज़र संचार को बढ़ाता है, जो लोगों को इंटरनेट पर जानकारी तक पहुंचने की अनुमति देता है। अधिकांश वेबसाइटें किसी भी लिंक या फ़ाइल तक पहुँचने के लिए HTTP का उपयोग करती है, जैसे http://hindiminds.com/। क्लाइंट-सर्वर कंप्यूटिंग मॉडल के भीतर, HTTP एक अनुरोध-प्रतिक्रिया प्रोटोकॉल है। इसे इंटरनेट प्रोटोकॉल सूट पर आधारित एप्लिकेशन लेयर प्रोटोकॉल के रूप में डिज़ाइन किया गया है।

Advantages of HTTP

  • HTTP को इंटरनेट या अन्य नेटवर्क पर अन्य प्रोटोकॉल के साथ लागू किया जा सकता है।
  • यह अलग अलग चीजों को download करने के लिए Multiple Connections को सक्षम बनाता है।
  • HTTP कम network connections प्रदान करता है, क्योंकि इसमें कम TCP Connections होते है।

What is the Full Form of HTTPS – HTTPS का फुल फॉर्म क्या होता है

HTTPS Ka Full Form, “Hypertext Transfer Protocol Secure” होता है। HTTPS का फुल फॉर्म हिंदी में, “हाइपरटेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकॉल सिक्योर” होता है।

What is HTTPS – HTTPS क्या है

HTTPS बहुत ही fast और secure है। इसका उपयोग कंप्यूटर नेटवर्क पर सुरक्षित संचार के लिए किया जाता है। इसका उपयोग ज्यादा तर Banking, E-Commerce वेबसाइट में उपयोग किया जाता है, क्योंकि जिस जिस वेबसाइट में Money Transfer होते है, उस साइट में HTTPS का यूज़ किया जाता है।

HTTPS आपको सर्वर और ब्राउज़र के बीच एक Secure Encrypted Connection बनाने की अनुमति देता। यहाँ, तक कि आपको संभावित संवेदनशील जानकारी की चोरी होने से बचने में काफी मदद करता है।

Advantages of HTTP (HTTP के लाभ)

  • HTTPS आपके Data-In-Transit को सुरक्षित रखता है।
  • HTTPS में जभी कोई problem आती है, तब “Not Secure” warning देता है।
  • यह आपके वेबसाइट रैंकिंग सुधारने में मदद करता है।
  • यह उपभोक्ताओं को Online Banking जैसे e-commerce के लेनदेन करने की अनुमति देता है और यह सुरक्षित भी रखता है।

Disadvantages of HTTP (HTTP के नुकसान)

  • अधिकांश अन्य मूल प्रोटोकॉल के लिए HTTP तुलनात्मक रूप से धीमा है।
  • उपयोगकर्ता को व्यक्तिगत गोपनीयता से खतरा हो सकता है क्योंकि उपयोगकर्ता HTTP के माध्यम से भेजे गए डेटा को एन्क्रिप्ट नहीं करता है।

What is the Difference Between HTTP & HTTPS – HTTP और HTTPS में क्या Difference है

Sr. NoHTTPHTTPS
1यह कम सुरक्षित है, क्योंकि यह बहुत आसानी से hackers की चपेट में आ सकता है।यह हर मामलों में सुरक्षित है, क्योंकि यह hackers को महत्वपूर्ण जानकारी पहुंचाने से रोकता है, इसलिए यह सुरक्षित है।
2इसका URL http:// से शुरू होता है।इसका URL https:// से शुरू होता है।
3इस वेबसाइट को SSL की आवश्यकता नही है।इस वेबसाइट को SSL Certificate को आवश्यकता होती है।
4यह वेबसाइट Encryption का उपयोग नही करती है।यह वेबसाइट Data Encryption का उपयोग करती है।
5यह Search Rankings में सुधार नही करता है।यह वेबसाइट Data Encryption का उपयोग करती है।
6यह वेबसाइट बहुत ही fast है।यह Search Rankings को बेहतर बनाने में मदद करता है।

Conclusion

मुझे उम्मीद हैं कि आपको मेरी यह लेख HTTP Full Form in Hindi की जानकारी पसंद आई होगी। यदि आपका कोई सवाल हो, तो हमें कमेंट्स में जरूर बताएं। यदि आपको लेख अच्छी लगी, तो अपने सोशल मिडिया पर शेयर करना न भूले।

Leave a Comment